आज हम होली के त्योहार को लेकर आपके लिए शायरी लेकर आए हैं। होली का त्यौहार रंगबिरंगा त्यौहार है। इस सतरंगी और अतरंगी दुनिया में रंग बिरंगी होली खेलने का अपना ही अलग मजा है। इस दिन बच्चे रंगों से भर कर अपनी पिचकारी लेकर एक दूसरे को रंगने चल देते हैं। उनको इस त्यौहार पर बहुत ही मजा आता है। वही बच्चे तो बच्चे होते ही हैं परंतु बड़े बूढ़े भी इस दिन बच्चे बन जाते हैं। वह भी अपने साथ संघियों के साथ होली का मजा लेते हैं। कोई गली कोई घर आपको ऐसा नहीं दिखाई देगा जहां होली का रंग ना छाया हो। इस दिन कोई किसी से नहीं डरता है कि अगर वह उस पर रंग डाल देगा तो सामने वाला क्या सोचेगा। इसीलिए तो कहते हैं बुरा ना मानो होली है। अगर आपका भी कोई प्रेमी या प्रेमिका आपसे रूठा हुआ है तो नीचे दी गई शायरी सुनाकर उस पर भी अपने प्यार का रंग चढ़ा दे। उसे भी समझा दे कि इस बार आप की होली का रंग उस पर ऐसा चढ़ेगा कि जिंदगी भर नहीं उतरेगा।

  • प्यार की बारिश कर देंगे आज,
    प्यार की छीनटों से भीगा देंगे आज,
    रंगों के निशाने हमारे ही होंगे,
    इस तरह भीगो देंगे आज।
    हैप्पी होली

 

  • तेरे साथ भीग कर पानी में,
    तुझ में समा जाना है,
    होली के रंगों से होकर रंगीन आज,
    तेरे गालों पर अपने प्यार का रंग लगाना है।
    Happy Holi 2017

 

  • अपने रंग में भिगो दो जरा,
    रंग की लाली लगा दो जरा,
    करीबियां बढ़ जाएंगे इससे ,
    इसी बहाने तुझे छू लूं जरा।
    बुरा न मानो होली है

 

  • होली के दिन रंगो से नहीं डरे,
    घर में आए होली के मेहमानों से नहीं डरे, आओ कुछ ऐसा काम करें,
    चलो खाली बैठे हैं पिचकारी भरे।
    रंग दो होली पर

 

  • दिल से दिल को मिलाने का मौसम आया है,
    बढ़ी हुई दूरियों को मिटाने का मौसम आया है,
    खुशियों भरा होली का त्यौहार आया है,
    एक दूसरे के रंग में डूब जाएं ऐसा मौसम आया है।
    होली का मौसम आया है

 

  • इस अतरंगी दुनिया का रंगीला त्यौहार है होली,
    भुला दो अपनों की गलतियों को माफ कर देने का त्योहार है होली।
    होली मुबारक है

 

  • मेरे भी घर आओ यारों,
    होली का रंग लाओ यार,
    खूब करेंगे एक साथ मस्ती,
    धूम मचाने आओ यारों
    हैप्पी होली

 

  • रंगों की ना होती कोई जात
    वो तो लाते बस खुशियों की सौगात
    हाथ से हाथ मिलाते चलो
    होली हैं होली रंग लगाते चलो
    होली है होली है

 

  • पिचकारी की रंगोली लाई गलियों में बौछार,
    इस बार भी मांगी है बच्चों ने अनोखी पिचकारी हर बार,
    बच्चे होते हैं मासूम उन्हें होता पर्व से प्यार,
    इसीलिए तो बच्चे होते यारों की यार।
    रंग से भरी पिचकारी मुबारक हो

 

  • होली के होते नाम हजार,
    इस बार करो कुछ खास काम यार,
    रंग लगा दो एक दूसरे को लाल और पीला,
    प्रेमी के संग मनाओ रासलीला।
    हल्ला हल्ला होल आयी

 

  • होली खेलना तो मेरे लिए एक बहाना है,
    काम तो मेरा बस तुम्हें पास लाना है,
    मिलकर तुमसे तुम्हारे रंग में खो जाना है,
    होली का दिन बस तुम्हारे साथ बिताना है।
    हल्ला हल्ला होल आयी

 

  • होली पर कन्हैया ने रचाई रासलीला,
    गोपियों को लगाया रंग हरा और पीला,
    तुम भी आ जाओ मेरे पास सनम,
    बंध जाएं रंग में हम इस जन्म।
    हल्ला हल्ला होल आयी

अन्य पढ़े

Leave a Comment