ladki patane ke tarike

 लड़की को पटाने के खास तरीके  ( ladki patane ke tarike )

सबकी जिंदगी में कभी ना कभी ऐसा दिन जरूर आता है जब उसे किसी ऐसी लड़की से प्यार हो जाता है। जिसको वह पहली बार देखता है। वह लड़की के साथ बातचीत बढ़ाने की हर मुमकिन कोशिश करता है। उसका फोन नंबर मांग कर अपने रिलेशन को बढ़ाने की कोशिश करता है। परंतु फोन नंबर मांगने की हिम्मत उसके पास नहीं होती है। क्योंकि उसे ऐसा डर लगता है कि कहीं मेरे नंबर मांगने से वह मुझे थप्पड़ ना मार दे। मुझसे दूर ना चली जाए। ऐसे में कुछ लड़के पीछे हट जाते हैं। तो आज ऐसे ही कुछ टिप्स लेकर हम आपके पास आए हैं, जिसमें हम आपको बताएंगे कि लड़कियों को कैसे पटा सकते हैं या कैसे आप उनको इंप्रेस करें। ताकि वह आपकी भावनाओं की कदर करें और आपसे प्यार करने लगे, तो चलिए पढ़ते हैं उनकीे पसंद के बारे में  ( ladki patane ke tarike )

ladki patane ke tarike
ladki patane ke tarike

1. भरोसेमंद बने ( bharosemand bane )

देखिए सबसे पहले अगर आप किसी के साथ रिश्ता शुरू करने वाले हैं। किसी लड़की को अपने प्यार का एहसास दिलाना चाहते हैं तो उसका भरोसा जीतना बहुत ही जरूरी है। क्योंकि उसी पर रिश्ता टीका रहता है। उसको भरोसा होगा तभी वह आपका अपना फोन नंबर देगी। आप उसे इस बात का भरोसा दिलाए कि आप उसका नंबर अपने दोस्तों को या फिर किसी और को नहीं देंगे।

2 उस से कोंटेक्ट में रहे ( usse contact me rahe )

लड़की से नंबर लेने के बाद उसे कहे कि वह उससे संपर्क में रहे और जब आप यह देखें कि उसका मूड बहुत ही अच्छा है। तो उसे अपने यह बात जरूर कहें कि क्या मैं आपको कभी कभार फोन कर सकता हूं और इसके अलावा कोई दूसरा शब्द इस्तेमाल ना करें।

3. ज्यादा उत्साह न दिखाएं (  jyada utsah na dikhayen )

अगर लड़की ने आपको अपना नंबर दे दिया है, तो उसमें ज्यादा खुश होने की जरूरत नहीं है। और ना ही ज्यादा उतावलापन दिखाने की जरूरत है। क्योंकि लड़कियों को ऐसे लड़के बिल्कुल भी नहीं पसंद जो उसके आगे पीछे मंडराते रहे।

4. जो भी बताएं सच बताएं ( jo bhi btaye sach btaye)

अगर आप लड़की से फोन नंबर मांग रहे हैं। और किसी झूठ का सहारा ले रहे हैं। तो आप सबसे बड़ी गलती कर रहे हैं क्योंकि लड़की झूठ को फट से भांप लेती है इसलिए जो भी बताएं सब साफ-साफ और सच में बताए।

5. दोस्‍तों की मदद न लें अपने दम पर करें ( doston ki madad n le apne dam par sab karen )

कुछ लड़के ऐसे होते हैं जो अपने दोस्त को हर बात पर आगे कर देते हैं। अपने दोस्त से कहते हैं कि वह लड़की का नंबर लेकर आए। जो कि लड़कियों को बिल्कुल भी नहीं पसंद हैं। उन्हें लगता है कि लड़के में खुद हिम्मत होनी चाहिए एक लड़की का नंबर मांगने की।

6. लड़की को थोड़ा समय दें (  ladki ko thoda samay de )

अगर आप चाहते हैं कि आपका रिश्ता लंबा चले तो बेहतर है कि आप लड़की को थोड़ा समय दें, सिर्फ नंबर मांग लेने से ऐसा नहीं समझे कि वह आप से पट गई है बल्कि उस को समझें और अपने दिल की बात भी अच्छे से समझाइए।

अन्य पढ़ें

 

beti bachao beti padhao yojana in hindi

बेटी पढ़ाओ बेटी बचाओ योजना ( beti bachao beti padhao yojana )

आपको तो पता ही है कि हमारे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 22 जनवरी 2015 में यह एक बड़ी योजना पानीपत हरियाणा में बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना ( beti bachao beti padhao yojana )लागू की गई। आप सब को पता ही है कि हमारे भारत की आबादी बड़े जोर के साथ बढ़ती जा रही है हमारे दुर्भाग्य की बात है तो यह है कि जो जनसंख्या बढ़ रही है उस में लड़कियों की कमी होती जा रही है। दिनों दिन लड़कियां कम हो रही हैं। जो 2001 में गणना हुई थी उस गणना के अनुसार 1000 लड़कों में केवल 927 लड़कियों की जनसंख्या थी। अब 2011 में 918 हो गया है अगर इसी तरह चलता रहा तो कुछ ही दिनों में या कुछ वर्षों में ही ऐसी जनसंख्या कम होती रही तो इस अपराध के कारण ही एक दिन हमारा देश अपने आप ही नष्ट होने की स्थिति में आ जाएगा। इस अपराध के कारण ही यह योजना प्रधानमंत्री द्वारा लागू की गई है। लोगों को जागरुक बनाने के लिए ही बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ की योजना शुरु की गई है।

 

क्या है बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ का मुख्य उद्देश्य ( Kya hai beti bachao beti padhao ka mukhya udyeshya )

इसका उद्देश्य यह है कि हमें कन्या भ्रूण हत्या को रोकना चाहिए। कन्या भ्रूण हत्या रोकने वाले का साथ भी देना चाहिए। कन्या भ्रूण हत्या एक बहुत ही बड़ा अपराध और पाप है। हम इस अपराध को रोककर देश को नष्ट होने से बचाया जा सकता है। हमें इस दिशा में लोगों को जागरुक करना चाहिए। क्योंकि हमारे देश में बेटियों का आंकड़ा गिर रहा है हमें बेटियों की सुरक्षा करनी चाहिए ल। आए दिन छेड़छाड़ बलात्कार जैसे अपराध दिन-ब-दिन बढ़ते ही जा रहे हैं। जिसकी कोई सीमा ही नहीं है। इन अपराधों को नियंत्रित करने के लिए अहम निर्णय लिए गए हैं। वित्त मंत्री अरुण जेटली अपने बजट से बेटियों को पढ़ने और बचाव के लिए 100 करोड़ राशि की शुरुआत की है।

beti bachao beti padhao yojana बेटी बचाओ और बेटी पढ़ाओ योजना के अंतर्गत दी जाने वाली सुविधाएं  ( beti bachao beti padhao yojana ke antargat di jaane vali suvidhayen )

क्योंकि आपको पता ही है कि हमारे देश की महिलाएं किसी भी कोने में सुरक्षित महसूस नहीं करती हैं। इसलिए उनको सुरक्षा के लिए कई कदम उठाए गए हैं। जिसके लिए 50 करोड़ रुपए का फंड दिया जाएगा। जिसमें महिलाओं के लिए पब्लिक ट्रांसपोर्ट की सुविधा दी जाएगी।

अलर्ट बटन  ( alert button )

इस अलर्ट बटन के जरिए महिला अपनी संदेश यानी कि वॉइस मैसेज इमेजेस और कई चीजें भेज सकती है ताकि उन को सुरक्षा प्रदान की जा सके।

संकट प्रबंधन केंद्र ( sankat prabndhan kendr )

अगर महिलाओं को कोई भी असुविधा हुई तो इस स्थिति में उचित कार्यवाही संकट प्रबंधन की सुविधा दी जाएगी। ये संकट प्रबंधन की जिम्मेदारी है।

जागरूकता  ( jagrukta )

सरकार हम महिलाओं को सुविधा दे रही है हमें जागरुक कर रही है हम अपनी बेटियों को बचाएं और बेटियों को पढ़ाए। हमें आगे भी जागरूक होना है। हम अपनी बेटियों को पढ़ाएं हमारे देश में बेटियों की कमी है हमें अपना देश बेटियों से हरा-भरा करना है। प्रधानमंत्री द्वारा इन्हें सुरक्षा मांगने पर सुविधा दी जाएगी। हम जागरुक हो और बेटियों को भी जागरुक करें। यह योजना बेटियों की सुरक्षा के लिए ही शुरू किया गया है। हमारे देश में महिलाएं सुरक्षित नहीं है इसलिए यह योजना जरूरी है।

हमारे प्रधानमंत्री तो विशेष योजना बनाई हैं। और लागू भी की गई है। लेकिन हमारी जनता उस पर कितना ध्यान दे रही है या नहीं यह तो जनता को पता है। इस दिशा में कई भी उपयुक्त कामं किए जा रहे हैं। कई विज्ञापन,स्लोगन, इन पोस्टर बनाए रहे हैं। जिस कारण से हमारे देश की बेटियां बचाओ बेटी पढ़ाओ का लक्ष्य हांसिल करना है।

बेटी पढ़ाओ बेटी बचाओ योजना के जनता की जागरूकता  ( beti bachao beti padhao yojana  ke liye janta ki jaagrukta )

बेटियों को बचाना हमारे देश वासियों का कर्तव्य है इन्ही इनका पूरा ध्यान देना चाहिए। पढ़ाई में उनकी मदद करनी चाहिए। बेटियों की पढ़ाई भी जरुरी है हम सब को मिल-जुलकर बेटियों की रक्षा करनी है इन्हें आगे बढ़ाना है। इनसे ही हमारा देश बढ़ेगा। बेटियों को आगे बढ़ाने के लिए एकता बनाए। बेटियों की सुरक्षा के लिए जागरूक होना जनता को जरूरी है। जो भी घिनोनें अपराध बढ़ रहे हैं उनको भी नियंत्रित करने के लिए सरकार अहम निर्णय लिए हैं। अलर्ट बटन के जरिए महिलाओं का संदेश भी सुना जाएगा और इन्हें सुविधा भी दी जाएगी। ये सब हम विश्वास के साथ ही सब कुछ कर सकते हैं। हम अपनी बेटियों को बचाएं और पढ़ाएं। सरकार द्वारा अगर बेटियों को पढ़ाएंगे तो उन्हें बढ़ाएंगे।

अन्य पढ़ें