लाजवाब चिली चिकन बनाने का सबसे आसान तरीका

लाजवाब चिली चिकन बनाने का सबसे आसान तरीका। ( chilli chicken bnaane ka sabse aasan tarika)

हम सभी लोग घर में हमेशा कुछ ना कुछ अलग बनाने की कोशिश करते रहते हैं और कुछ तो ऐसी रेसपी होती हैं जिनको हम लोग घर पर बहुत कम ही बनाते हैं उसको हम लोग ज्यादातर बाजार में जाकर खाना पसंद करते हैं।

या फिर किसी होटल या रेस्टोरेंट में जाकर लेकिन आज हम आपको जिस रेसिपी के बारे में बताने जा रहे हैं वह रेसिपी आप कभी भी अपने घर में बहुत जल्द बना कर खा सकते हैं।

अगर कभी भी आपके घर पर मेहमान या फिर किसी भी तरह की पार्टी हो तब भी आप इस रेसिपी को बनाकर अपने मेहमानों का दिल खुश कर सकते हैं।

आज हम आपको चिली चिकन के बारे में बताने जा रहे हैं कि इस को हम किस तरह से बहुत जल्दी और आसानी से लाजवाब तथा स्वादिष्ट बना सकते हैं।

चिली चिकन जो कि एक नॉन वेज खाना है इसे लोग बहुत ज्यादा खाते हैं जो की रोटी, रुमाली रोटी,नान तथा चावल के साथ बहुत आराम से खा सकते है,कभी भी अगर आपके घर पर कोई मेहमान आ जाए, आप अगर सोच रहे हो कि क्या जल्द से जल्द बना सके तब चिली चिकन बना दें।

जिससे की आपके मेहमान भी खुश हो जाएंगे और आपकी एक अच्छी स्वादिष्ट रेसिपी भी बन जाएगी, चिली चिकन बनाने के लिए लगभग 20 मिनट का समय चाहिए।

अगर आपके पास सामग्री तैयार हो,तो हम आपको बता रहे हैं तीन चार सदस्यों के लिए चिली चिकन बनाने के लिए आप को कितनी कितनी मात्रा में क्या-क्या सामान चाहिए।

Chilli Chicken Recipe

chilli chicken recipe
chilli chicken recipe

Ingredients

ढाई सौ ग्राम बोनलेस चिकन।

4 टीस्पून कॉर्नफ्लोर।

5 हरी मिर्च बारीक कटी हुई।

4 बड़े चम्मच सोया सॉस।

दो बड़े चम्मच टमैटो सॉस।

4 प्याज बारीक कटा हुआ।

6 लहसुन की कलियां ।

एक छोटा चम्मच लाल मिर्च पाउडर।

दो शिमला मिर्च बारीक कटे हुए ।

एक बड़ा चम्मच बारीक कटा हुआ अदरक।

4 बड़े चम्मच तेल और नमक स्वादानुसार।

चिली चिकन बनाने विधि  ( chilli chicken bnaane ki vidhi )

सबसे पहले आप सारे चिकन को एक साथ इकट्ठा कर ले और उनको अच्छे से धो लें ध्यान रखें सारे चिकन के पीस बोनलेस होने चाहिए।

अब सभी चिकन के पीस को अच्छे से धो लीजिए उसके बाद आप उस पर लहसुन तथा अदरक का पेस्ट लगा दीजिए।

लहसुन और अदरक का पेस्ट अच्छे से सभी पीस पर लगा दें कोई भी सिरा उसका खाली ना रह जाए इस बात का ध्यान रखे।

उसके बाद उसको एक बर्तन के अंदर ढक कर रख दें थोड़ी देर बाद जब पेस्ट थोड़ा सा सूख जाए तो सभी चिकन के पीस को बाहर निकाल ले।

उसके बाद गैस जला ले उस पर एक पेन रखे उसके अंदर तेल डालें और तेल को थोड़ा ज्यादा गर्म होने के बाद उसके अंदर से सभी पीस तल ले और ध्यान रखें कोई भी पीस ज्यादा जलने ना पाए।

आप सभी टुकड़ों को फ्राई करके बाहर निकाल ले।

अब आप एक पैन और गैस जला के रखे उसके अंदर थोड़ा सा तेल डालें उसके अंदर बारीक कटे हुए प्याज को डालें और उसको थोड़ा हल्का ब्राउन होने तक भूनते रहें अब इसके अंदर कटी हुई बारीक शिमला मिर्ची डाल दें और उसको भी उसी के साथ हल्का ब्राउन होने तक पकने दे साथ में अब मिर्ची डाल दें और बाकी मसाले भी इसके अंदर डाल दें ताकि सब का मिश्रण अच्छे से हो जाए।

और सब को दो-चार मिनट तक अच्छी तरह पकने दे, जब मसालो की खुशबू आने लगे उसके बाद उसके अंदर सोया सॉस डाल दे और जो साथ में चिकन के पीस थे उसको भी उसके अंदर डाल दें ताकि सभी मसाले और सभी पीस एक दूसरे के साथ पक जाए और वह एक दूसरे के साथ मिक्स हो जाएं।

अब उसके अंदर 2 कप पानी डाल दें पानी डालने के बाद उसे 5 से 8 मिनट तक ढककर रख दे ताकि वह अच्छे से पक जाए। आपका चिली चिकन तैयार है अब आप इसे किसी भी रोटी,नान या रुमाली रोटी के साथ अपने मेहमानों को सर्व कर सकते हैं और खा सकते हैं ये बहुत ज्यादा लाजवाब और स्वादिष्ट होगा।

diwali sms

आप सभी को पता होगा इस साल दिवाली पर्व 19 अक्टूबर को पूरी इंडिया में बड़ी धूम-धाम से मनाया जाएगा। दिवाली हर साल आती है और इस फेस्टिवल को शायद ही कोई होगा जो नहीं मनाता होगा। हर साल दिवाली का इंतजार सभी भारतीयों को बड़ी बेसब्री से होता है। दिवाली के जैसे ही दिन नजदीक आते हैं। तबसे मिठाइयां खरीदना लोग शुरू कर देते हैं। और मिठाई बांटते है। दिवाली वाले दिन दिए जलाए जाते हैं। लक्ष्मी, विष्णु भगवान की पूजा की जाती है घर को अच्छे से सजाया जाता है। और हर जगह लड़ियाँ लगाई जाती है।
धूमधाम से लोग पटाखे फोड़ते है और भी बहुत से कारण है। जिसकी वजह से सभी को दिवाली फेस्टिवल अच्छा लगता है। आज हम आपको अपने इस आर्टिकल में दिवाली sms और शुभकामनाएं कैसे दूसरे को शायरी के रूप में दें। यह बताएंगे। ताकि आप अपने फ्रेंड और फैमिली को इसे सुनाके उनकी दिवाली और बढ़िया कर दो।

इस दिवाली जैसे शुभ पर्व को प्यार और शांति से मनाते हैं,
रुठे हुए को इस दिन हम अपने करीब लाते हैं, लग जाओ प्यार से सबके गले, इस दिन हम प्यार भरा दीप जलाते हैं।
दीपावली मुबारक हो आपको!

दिवाली आई पुरानी यादें लाई,
भूल गए थे जो फुलझड़ियों के साथ खेलने वाला बचपन,
क्या हुआ अगर वो आज पास नहीं है,
परंतु दिवाली के साथ उनकी यादें तो आयी
इसलिए आज खुशियों से ये आंखे नम हो आयी।
“हैप्पी दिवाली”

अँधेरा हुआ तो रात आ गई,
सुबह दिवाली के साथ आ गयी,
उठो और देखो एक मेसज आया है
मेसज के साथ दिवाली की शुभकामनाएं साथ आ गयी।
A Very-Very Prosperous Deepawali 2017

हर दम खुशियाँ रहे तुम्हारे आस पास, दामन में हो खुशियां ढेर सारी,
यही दुआ है हमारी और इसके साथ आपको  Happy Diwali

दिवाली का त्यौहार इको फ्रेंडलीे मनाना है,
सुरक्षित और अपनो के साथ मनाना है,
मोदी जी के स्वच्छ भारत अभियान को आगे लेकर जाना है,
दीवाली पर एक नया इतिहास बना कर दिखाना है।
Happy Deewali !

चेहरे पर हंसी रख कर दीये तुम जलाना,
जीवन में नई उलास और उमंग को लाना,
दुख सभी भूल कर,
सबको प्यार से अपनाना गले,
और यादगार दीवाली तुम मनाना, दीवाली 2017 की शुभकामनायें

दीपक की रोशनी सब जगह जगमगाए,
लगे हैं ऐसा राम संग सीता मैया आए,
हर घर, हर शहर अयोध्या जैसे सजाएं,
आओ प्यार से हम सब दिवाली मनाएं।

लक्ष्मी पधारेंगी तुम्हारे घर तुम्हारा नाम होगा, इतना काम तुम्हारा बढ़ेगा कि पैसा भरमार होगा,
सबके दिलों में करोगे तुम राज,
यही शुभकामनाएं है हमारी आज,
दीपवाली की ढेरों शुभकामनायें !

जगमगाती लड़ियों से जगमगाता आंगन हो, आतिशबाजियों की आवाज से यह आसमान रोशन हो,
तुम्हारे लिए ऐसे आए यह खुशियों की दिवाली, झूमने का मौसम हो पाली पाली।

झूम के आई है दिवाली देखो,
ढेर सारी खुशियां लाई है दिवाली देखो,
यहां वहां कहीं भी देखो,
दिवाली के जगमगाते दीप देखो ! Happy Deepawali 2017

 

बेटी पढ़ाओ बेटी बचाओ योजना Beti padhao beti bachao yojna

बेटी पढ़ाओ बेटी बचाओ योजना ( Beti padhao beti bachao yojna )

आपको तो पता ही है कि हमारे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 22 जनवरी 2015 में यह एक बड़ी योजना पानीपत हरियाणा में बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना लागू की गई। आप सब को पता ही है कि हमारे भारत की आबादी बड़े जोर के साथ बढ़ती जा रही है हमारे दुर्भाग्य की बात है तो यह है कि जो जनसंख्या बढ़ रही है उस में लड़कियों की कमी होती जा रही है। दिनों दिन लड़कियां कम हो रही हैं। जो 2001 में गणना हुई थी उस गणना के अनुसार 1000 लड़कों में केवल 927 लड़कियों की जनसंख्या थी। अब 2011 में 918 हो गया है अगर इसी तरह चलता रहा तो कुछ ही दिनों में या कुछ वर्षों में ही ऐसी जनसंख्या कम होती रही तो इस अपराध के कारण ही एक दिन हमारा देश अपने आप ही नष्ट होने की स्थिति में आ जाएगा। इस अपराध के कारण ही यह योजना प्रधानमंत्री द्वारा लागू की गई है। लोगों को जागरुक बनाने के लिए ही बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ की योजना ( Beti padhao beti bachao yojna )शुरु की गई है।

Beti padhao beti bachao yojna
Beti padhao beti bachao yojna

क्या है बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ का मुख्य उद्देश्य ( Kya hai beti bachao beti padhao ka mukhya udyeshya )

इसका उद्देश्य यह है कि हमें कन्या भ्रूण हत्या को रोकना चाहिए। कन्या भ्रूण हत्या रोकने वाले का साथ भी देना चाहिए। कन्या भ्रूण हत्या एक बहुत ही बड़ा अपराध और पाप है। हम इस अपराध को रोककर देश को नष्ट होने से बचाया जा सकता है। हमें इस दिशा में लोगों को जागरुक करना चाहिए। क्योंकि हमारे देश में बेटियों का आंकड़ा गिर रहा है हमें बेटियों की सुरक्षा करनी चाहिए ल। आए दिन छेड़छाड़ बलात्कार जैसे अपराध दिन-ब-दिन बढ़ते ही जा रहे हैं। जिसकी कोई सीमा ही नहीं है। इन अपराधों को नियंत्रित करने के लिए अहम निर्णय लिए गए हैं। वित्त मंत्री अरुण जेटली अपने बजट से बेटियों को पढ़ने और बचाव के लिए 100 करोड़ राशि की शुरुआत की है।

बेटी बचाओ और बेटी पढ़ाओ योजना के अंतर्गत दी जाने वाली सुविधाएं ( Beti bachao aur beti padhao yojna ke antargat di jaane vali suvidhayen )

क्योंकि आपको पता ही है कि हमारे देश की महिलाएं किसी भी कोने में सुरक्षित महसूस नहीं करती हैं। इसलिए उनको सुरक्षा के लिए कई कदम उठाए गए हैं। जिसके लिए 50 करोड़ रुपए का फंड दिया जाएगा। जिसमें महिलाओं के लिए पब्लिक ट्रांसपोर्ट की सुविधा दी जाएगी।

अलर्ट बटन ( alert button )

इस अलर्ट बटन के जरिए महिला अपनी संदेश यानी कि वॉइस मैसेज इमेजेस और कई चीजें भेज सकती है ताकि उन को सुरक्षा प्रदान की जा सके।

संकट प्रबंधन केंद्र ( sankat prabndhan kendr )

अगर महिलाओं को कोई भी असुविधा हुई तो इस स्थिति में उचित कार्यवाही संकट प्रबंधन की सुविधा दी जाएगी। ये संकट प्रबंधन की जिम्मेदारी है।

जागरूकता ( jagrukta)

सरकार हम महिलाओं को सुविधा दे रही है हमें जागरुक कर रही है हम अपनी बेटियों को बचाएं और बेटियों को पढ़ाए। हमें आगे भी जागरूक होना है। हम अपनी बेटियों को पढ़ाएं हमारे देश में बेटियों की कमी है हमें अपना देश बेटियों से हरा-भरा करना है। प्रधानमंत्री द्वारा इन्हें सुरक्षा मांगने पर सुविधा दी जाएगी। हम जागरुक हो और बेटियों को भी जागरुक करें। यह योजना बेटियों की सुरक्षा के लिए ही शुरू किया गया है। हमारे देश में महिलाएं सुरक्षित नहीं है इसलिए यह योजना जरूरी है।

हमारे प्रधानमंत्री तो विशेष योजना बनाई हैं। और लागू भी की गई है। लेकिन हमारी जनता उस पर कितना ध्यान दे रही है या नहीं यह तो जनता को पता है। इस दिशा में कई भी उपयुक्त कामं किए जा रहे हैं। कई विज्ञापन,स्लोगन, इन पोस्टर बनाए रहे हैं। जिस कारण से हमारे देश की बेटियां बचाओ बेटी पढ़ाओ का लक्ष्य हांसिल करना है।

जनता की जागरूकता ( janta ki jaagrukta)

बेटियों को बचाना हमारे देश वासियों का कर्तव्य है इन्ही इनका पूरा ध्यान देना चाहिए। पढ़ाई में उनकी मदद करनी चाहिए। बेटियों की पढ़ाई भी जरुरी है हम सब को मिल-जुलकर बेटियों की रक्षा करनी है इन्हें आगे बढ़ाना है। इनसे ही हमारा देश बढ़ेगा। बेटियों को आगे बढ़ाने के लिए एकता बनाए। बेटियों की सुरक्षा के लिए जागरूक होना जनता को जरूरी है। जो भी घिनोनें अपराध बढ़ रहे हैं उनको भी नियंत्रित करने के लिए सरकार अहम निर्णय लिए हैं। अलर्ट बटन के जरिए महिलाओं का संदेश भी सुना जाएगा और इन्हें सुविधा भी दी जाएगी। ये सब हम विश्वास के साथ ही सब कुछ कर सकते हैं। हम अपनी बेटियों को बचाएं और पढ़ाएं। सरकार द्वारा अगर बेटियों को पढ़ाएंगे तो उन्हें बढ़ाएंगे।

error: Content is protected !!